राम मंदिर निर्माण में कोई भी बलिदान देने से पीछे नहीं हटेंगे हिंदू : संजय जाट

आगरा। 2019 लोकसभा चुनाव से पहले श्री राम मंदिर निर्माण को लेकर “नए समीकरण समाचार पत्रिका” के संवादाता की से बातचीत करते हुए “हिंदू ही आगे”के जिला संयोजक श्री संजय जाट ने केंद्र की भाजपा सरकार को सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए कहा कि 2019 से पहले अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर निर्माण नहीं तो भाजपा को वोट भी नहीं।

हिंदू ही आगे आगरा के जिला संयोजक श्री संजय जाट ने बातचीत में बताया कि जो पार्टी भगवान श्री राम के नाम पर वोट मांग कर सत्ता का मजा ले रही है और मलाई खा रही हैं। वहीं भाजपा ने करोड़ों हिंदुओं के साथ धोखेबाजी करते हुए अपने पार्टी कार्यालय को भव्य तरीके से जैसे बनाया है वहीं अयोध्या में श्री रामलला टूटे तंबू में रह रहे हैं। यह कुठाराघात किया है भारतीय जनता पार्टी ने करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं के साथ। जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि हिंदू हृदय सम्राट डॉक्टर प्रवीण भाई तोगड़िया और करोड़ों हिंदुओं के दिलों में रहने वाले स्वर्गीय अशोक सिंघल जी का सपना अयोध्या में भगवान श्री राम का मंदिर निर्माण के अलावा कुछ नहीं है। हिंदू हृदय सम्राट डॉ प्रवीण भाई तोगड़िया बाल्यकाल से ही हिंदुओं की आस्थाओं की रक्षा के लिए जिस तरह से काम कर रहे हैं और भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए जो संघर्ष बाल्यावस्था से लेकर अब तक कर रहे हैं ऐसे हिंदू महावीर को हमारा कोटि-कोटि प्रणाम। श्री संजय जाट ने आगे कहा कि 24 जून को हिंदू हृदय सम्राट प्रवीण भाई तोगड़िया दिल्ली में हुंकार भरकर स्वयं अयोध्या में भगवान श्री राम के मंदिर के निर्माण के लिए अलख जलाएंगे और मंदिर निर्माण की भागदौड़ अपने हाथ में लेंगे।

उन्होंने कहा कि अगर अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर निर्माण नहीं होगा तो कहां होगा। उन्होंने भाजपा को अपने पुराने वादे याद दिलाते हुए कहा कि लाखों करोड़ों हिंदुओं ने विकास के नाम पर वोट नहीं दिया था। क्योंकि देश में विकास भारतीय जनता पार्टी की सरकार से पहले भी कई सरकारों में हुआ है। हमारे हिंदुओं ने फटे हुए तंबू में रह रहे श्री राम लला के भव्य मंदिर निर्माण के लिए भाजपा को वोट दिया था। जो कि आज भाजपा अपने कहे वादे से मुकर गई है। श्री संजय जाट ने आगे कहा जिस तरह से भाजपा के तमाम नेता अयोध्या में भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण के खिलाफ अपनी बयानबाजी करते हैं। फिर नेताओं की अर्नगल बयानबाजी से इनकी दूषित मानसिकता का पता चलता है। इन लोगों में भगवान श्रीराम में कोई आस्था नहीं है यह महज दिखावा करके करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं के साथ खेलते हैं। उन्होंने भाजपा द्वारा मंदिर निर्माण के प्रति रुचि ना दिखलाए जाने पर भाजपा पर वादाखिलाफी का आरोप भी लगाया।

262 Views

1