डेंगू के मरीजों की पुष्टि से स्वास्थ्य विभाग में खलबली

 आगरा। एसएन मेडिकल कालेज में चार डेंगू के मरीजों की पुष्टि होने से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मची है। विभाग ने पैथोलॉजी सेंटरों को निर्देश जारी किए हैं। मरीजों में डेंगू के लक्षण पाए जाए तो तत्काल स्वास्थ्य विभाग को सूचित किया जाए। एसएन प्रशासन ने डेंगू से निपटने के व्यापक इंतजाम कर लिए हैं।
  • एसएन में चार मरीजों की हुई पुष्टि, सीएमओ ने किया अलर्ट घोषित
  •  वायरस ने निपटने के लिए मेडिकल कालेज ने डेंगू वार्ड का बनाया
बुधवार को चार मरीजों में डेंगू के लक्षणों की पुष्टि हुई थी। हालांकि मरीजों को इलाज देकर बेहतर स्थिति में डिस्चार्ज कर दिया गया है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग डेंगू को लेकर काफी चिंतित है। एसएन मेडिकल कालेज के पैरामेडिसिन विभाग में ११ मरीजों को डेंगू वायरस की आशंका के चलते ब्लड सैंपल के लिए भेजा था। जिनमें चार मरीजों में एलाइजा की पुष्टि हो गई थी। कालेज के प्रचार्य जीके अनेजा का कहना है कि कालेज में अभी किसी भी मरीज को डेंगू के लिए भर्ती नहीं किया गया है। डेंगू से निपटने के लिए वार्ड बना दिया गया है। आशंकित मरीजों की रिपोर्ट तैयार की जाएगी। जिसकी सूची जिला स्वास्थ्य विभाग को भी भेजी जाएगी। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. मुकेश कुमार वत्स का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पताल, सीएचसी, प्राइवेट अस्पतालों, पैथोलोजी सेंटरों को अलर्ट कर दिया है। डेंगू के मरीजों की रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को भेजें, ऐसा न करने पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। फोटो इन्टरनेट  

डेंगू के लक्षण- बुखार से पहले या बाद में जाड़ा लगना, आंखों व जोड़ों में दर्द होना, तेजी से सिरदर्द होने व आंखों के लाल पडऩा। ऐसे मरीजों में डेंगू के लक्षण पाए जाते हैं।

बचाव के साधन- डेंगू के बचने के लिए कूलर के पानी को बदलना चाहिए, पूरी आस्तीन के कपड़े पहने, मच्छरों से बचाव के लिए किटाणू नाशक दवाओं को उपयोग किया जाए। घरों के आस-पास या नालियों में गंदगी ना रुकने दिया जाए। जलभराव जैसी जगहों पर डेगू के वायरस अधिक पनपते हैं। 

97 Views