प्रतिबंधित दवाई की खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की छापामारी

 आगरा -आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के निर्देशानुसार आगरा मण्डल के सहायक आयुक्त औषधि  अधिकारियों ने  श्वेता सैनी के नेतृत्व में  खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम गठित कर आगरा नगर के रामबाग, बोदला, मुगलिया रोड इलाकों के 6 किराना व पशु आहार बेचने वाले दुकानों पर प्रतिबंधित ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन की जाँच के लिए छापा मारा. किसी दुकान पर ऑक्सीटोसिन बरामद नहीं हुआ पर श्याम प्रोविजन स्टोर रामबाग पर 20000 मूल्य की दवाइयाँ बरामद हुईं जिसके लिए फर्म के पास कोई विक्रय लाइसेंस तथा दवाओं का क्रय बीजक भी नहीं पाया गया. उनमें से एक संदिग्ध दवा का नमूना भर कर राजकीय प्रयोगशाला लखनऊ भेजा जा रहा है तथा बाकी दवाओं को नियमानुसार फॉर्म 16 पर सीज़ किया गया |
विवेचना के बाद उक्त फर्म के मालिक पर मुक़दमा दायर किया जायेगा|  पशुओं में इस्तेमाल होने वाली ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन काफी पहले प्रतिबंधित की जा चुकी है | इंसानो के उपयोग की ऑक्सीटोसिन का निर्माण 1  सितम्बर से सिर्फ सरकारी क्षेत्र की कम्पनी कर्नाटक एंटीबायोटिक एण्ड फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड बंगलुरू के द्वारा किया जा रहा है तथा यह शेड्यूल एच-1 में है जिसके लिए विक्रेताओं को रजिस्टर में रिकॉर्ड रखना अनिवार्य है|  ऑक्सीटोसिन व नारकोटिक ड्रग्स के दुरुपयोग को रोकने के लिए विभाग सतत कार्यवाही करता  रहेगा|
169 Views

1