मीटू का असर, सीआइसी ने कहा, जिन संस्थानों में नहीं है निवारण तंत्र, उन पर हो कार्रवाई

नई दिल्ली। भारत में मी टू अभियान शुरू होने के बाद महिलाओं के यौन उत्पीड़न की बड़ी संख्या में सामने आई शिकायतों का केंद्रीय सूचना आयोग (सीआइसी) ने संज्ञान लिया है। सीआइसी ने राष्ट्रीय महिला आयोग से कहा है कि जिन संस्थानों ने अभी तक यौन उत्पीड़न के मामलों के लिए निवारण तंत्र नहीं बनाया है, उन पर कार्रवाई की जाए।

सीआइसी ने कहा है कि उत्पीड़न की शिकार जो महिलाएं महिला आयोग या संस्थान की आंतरिक शिकायत कमेटी या संस्थान के प्रमुख से शिकायत करती हैं, उनकी और उनके हितों की सुरक्षा की जानी चाहिए। देखा जाना चाहिए कि शिकायत करने के बाद उनका उत्पीड़न तो नहीं किया जा रहा। यह बात सूचना आयुक्त श्रीधर आचार्युलू ने कही है |

Read more

 

 

15 Views