10 पेठा उत्पादन कर्ताओं के विरूद्ध जल एवं वायु अधिनियम के अन्तर्गत नोटिस

आगरा – आयुक्त/अध्यक्ष टी0टी0 जेड् प्राधिकरण श्री अनिल कुमार की अध्यक्षता में प्राधिकरण की 45 वीं बैठक आयुक्त सभागार में सम्पन्न हुई। जिसमें आयुक्त ने प्रतिबन्धित श्रेणी के प्लास्टिक को बन्द कराने हेतु विभिन्न विभागों के द्वारा जब्त की गयी पालिथीन के दुकानदारों का लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाही न करने व संयुक्त आयुक्त, वाणिज्य कर द्वारा बैठक में उपस्थित न होने पर नाराजगी व्यक्त की तथा वाणिज्य विभाग से इसके लिए स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिए कि उनके द्वारा कितना प्रवर्तन कार्य किया गया। उन्होंने आगामी बैठक में संयुक्त आयुक्त, वाणिज्य कर को स्वयं उपस्थित होने के भी निर्देश दिए।
    बैठक में आयुक्त ने कहा कि टी0टी0 जेड् प्राधिकरण क्षेत्र के अन्तर्गत सभी जनपदों से प्रतिबन्धित श्रेणी के प्लास्टिक को बन्द कराने हेतु की गई कार्यवाही पर आख्या प्रस्तुत करने के साथ विभाग वार प्रेजेन्टेशन करने के भी निर्देश दिए। आयुक्त ने टी0टी0 जेड् क्षेत्र के अन्तर्गत जैव चिकित्सा अपशिष्ट के निस्तारण की समीक्षा के दौरान नगर आयुक्तों को निर्देशित किया है कि वे इसकी जांच करायें कि उनके क्षेत्र में जैव चिकित्सा आपशिष्ट का नियमानुसार निस्तारण हो रहा है। यदि नियमानुसार निस्तारण न हो रहा हो तो सम्बन्धित मुख्य चिकित्साधिकारी का स्पष्टीकरण प्राप्त कर उनके विरुद्ध सेक्शन-5 की नोटिस जारी की जाय। आयुक्त ने पूर्व में जारी सेक्शन-5 की नोटिस पर एन0एच0ए0आई0 द्वारा प्रस्तुत आख्या का बिन्दुवार परीक्षण हेतु क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण इकाई को निर्देशित किया। इसके साथ ही जिन विभागों द्वारा प्रदूषण नियंत्रण की दिशा में कार्य नहीं किया जा रहा है, उनके विरुद्ध सेक्शन-5 की नोटिस जारी करने हेतु निर्देशित किया गया। नगर-निगम आगरा व मथुरा द्वारा अभी तक सेक्शन-5 की नोटिस का उत्तर न देने पर शीघ्र नोटिस प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया।
     बैठक में बताया गया कि नूरी दरवाजा क्षेत्र में संचालित 10 पेठा उत्पादन कर्ताओं के विरूद्ध जल एवं वायु अधिनियम के अन्तर्गत नोटिस प्रेषित की गयी है तथा 07 पेठा उत्पादन कर्ताओं के विरुद्ध कारण बताओ नोटिस जारी करने के साथ ही संस्तुति बोर्ड मुख्यालय को प्रेषित की गयी है। ए0डी0ए0 द्वारा  रिहायशी क्षेत्रों में संचालित पेठा इकाइयों को चिन्हित करने के लिए गठित प्रवर्तन टीम द्वारा 18 पेठा इकाइयों के विरुद्ध उत्तर प्रदेश नगर योजना एवं विकास अधिनियम 1976 की धारा 26 के अन्तर्गत नोटिस जारी की गयी है। ताजमहल के आस-पास के क्षेत्र में कुल 11 रास्तों पर 07 कैटल कैचर तैयार करा दिये गये है। शेष 04 कैटल कैचर की निविदा आमंत्रित की गयी है।
     बैठक में जिलाधिकारी आगरा श्री एन0जी0 रवि कुमार ने कहा कि पुराने स्कूटरों को माल ढोने के वाहन में परिवर्तित कर संचालित होने वाले वाहनों पर अभी और कार्यवाही की जरूरत है, परिवहन विभाग इसे सुनिश्चित करें।
     बैठक  में मा0 सदस्य श्री रमन ने सुझाव दिया कि पालिथीन नियन्त्रण हेतु ट्रान्सपोर्ट प्वाइंट पर भी जांच की जाय।
      बैठक में जिलाधिकारी आगरा श्री एन0जी रवि कुमार, मथुरा श्री सर्वज्ञ राम मिश्र, उपाध्यक्ष ए0डी0ए0 शुभ्रा सक्सेना, उपाध्यक्ष एम0वी
21 Views