देश का जनमानस कांग्रेस की ओर देख रहा है-पटेल

हाथरस-जनवरी। कांग्रेस की जनभागीदारी यात्रा के आज दूसरे दिन शहर कैंप कार्यालय श्री राधा कृष्ण कृपा भवन पर यात्रा का नेतृत्व कर रहे प्रदेश संगठन मंत्री एवं राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश संयोजक तरुण पटेल ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। जिसकी अध्यक्षता शहर अध्यक्ष चंद्रगुप्त विक्रमादित्य ने की व संचालन सभासद विनोद कर्दम ने किया।
प्रदेश सचिव पं. ब्रह्मदेव शर्मा विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थे। तरुण पटेल ने कहा कि आज सभी कार्यकर्ता मिलकर एकजुट होकर पार्टी के लिए ईमानदारी और अनुशासन से कार्य करेंगे तो वह दिन दूर नहीं जब राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री होंगे। हम सबको संगठित होकर पार्टी के लिए कार्य करना है।
इस अवसर पर शहर     अध्यक्ष चंद्रगुप्त विक्रमादित्य ने हाथरस शहर की ओर से प्रतीक चिन्ह देकर व शॉल उड़ाकर तरुण पटेल का स्वागत किया। आशु कवि अनिल बौहरे एवं श्याम बाबू चिंतन ने हाथरस साहित्य की नगरी है के बारे में काव्य के माध्यम से बताया। उसके उपरांत यात्रा प्रारंभ हुई और बीएच मिल रोड होते हुए चावड़ गेट पर पहुंची, जहां जनता को शहर अध्यक्ष चंद्रगुप्त विक्रमादित्य व तरुण पटेल ने जनता को  संबोधित करते हुए कहा कि आज पूरे देश का जनमानस कांग्रेस की ओर देख रहा है। क्योंकि राहुल गांधी  का केवल एक ही सपना है हमारे देश की साख, हमारे देश का लोहा पूरा विश्व माने और इसी के लिए वह कार्य कर रहे हैं। मोदी सरकार ने जनता के साथ धोखा किया है, उसे ठगने का कार्य किया है, छला है, युवा, महिला बेरोजगार, दलित किसान सभी के साथ विश्वासघात किया है। आज पूरे देश की जनता कह रही है कि हमारे देश का चैकीदार चोर ही नहीं वल्र्ड का महाचोर है।
इस अवसर पर ऋषि कुमार कौशिक, अमृत सिंह पौनिया, नारायण प्रसाद पिप्पल, जय शंकर पाराशर, श्रीमती बीना गुप्ता एड., विनोद कर्दम सभासद, सत्यप्रकाश रंगीला, ललतेश गुप्ता, अनुज संत, सत्य प्रकाश शर्मा, मुन्नीदेवी, कस्तूरी देवी, कपिल नरूला, विष्णु कुमार, विनोद शर्मा शशी गुरु, पूपू बौहरे, गिरिराज सिंह गहलोत, हरिशंकर वर्मा, पन्नालाल, शरद उपाध्याय नंदा, आदित्य कौशिक, नीरू शर्मा, संजय कप्तान, जितेंद्र शर्मा, के डी शर्मा, सुनील शर्मा, राधेश्याम अग्निहोत्री, पन्नालाल, मुन्नालाल शर्मा,  श्रीमती रीना कप्तान आदि मौजूद थे। चावड़ गेट से यात्रा मस्जिद चैराहा, मैडू गेट, भूरापीर चैराहा, बिजली कॉटन मिल पहुंचकर यात्रा को शहर अध्यक्ष चंद्रगुप्त विक्रमादित्य ने एटा के लिए विदा किया।