गुरु और शिष्य ने एक साथ किया प्रतिभा का प्रदर्शन

आगरा। शुक्रवार को कलावती संगीत कला निकेतन एत्मादपुर द्वारा एक संगीत कार्यक्रम आयोजित किया गया ।जिसमें सभी विद्यार्थियों एवं गुरुओं ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।
एत्मादपुर स्थित कलावती संगीत कला निकेतन संगीत क्षेत्र में आगरा शहर ही नहीं अपितु संपूर्ण भारत में अपनी अहम भूमिका निभा रहा है। केंद्र व्यवस्थापक श्री विरेंद्र भानु गुप्ता उर्फ चुन्ना जी की देखरेख में यह संगीत विद्यालय कार्यरत है। जो कि प्रयाग संगीत समिति इलाहाबाद से मान्यता प्राप्त है। यहां पर गायन वादन एवं नृत्य की कक्षाएं आयोजित की जाती है। जिसमें अभी तक 7000 से अधिक विद्यार्थी संगीत डिप्लोमा प्राप्त कर चुके हैं।इस विद्यालय से संगीत शिक्षा प्राप्त कर चुके अधिकतर विद्यार्थी शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं एवं कई विद्यार्थी संगीत प्रधानाचार्य के पद पर भी कार्यरत हैं।फरीदाबाद से पधारे दीपेंद्र कांत जो कि वर्तमान में सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र फरीदाबाद में प्रधानाचार्य हैं इसी संगीत विद्यालय से संगीत शिक्षा प्राप्त करके इस मुकाम तक पहुंचे हैं। जिनका उद्देश्य जन-जन तक संगीत पहुंचाना है। इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों में सफलता प्राप्त कर चुके हैं उनके नाम निम्नलिखित हैं कुमारी अंजना, कुमारी दीप्ति,कुमारी पल्लवी आदि सभी शिक्षक के साथ-साथ देश-विदेश में अपनी नृत्य की प्रतिभा के प्रदर्शन से सभी को मंत्रमुग्ध भी कर देते हैं। अध्यक्ष सुबोध कुमार शर्मा ने कार्यक्रम में पधारे सभी अतिथियों का स्वागत किया एवं उद्घोषक का कार्य संभाला। सभी अतिथियों के धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम समाप्त हुआ। कार्यक्रम में लालजी गुरु,मशीह साहब, के पी सिंह , लक्ष्मण सिंह सितारा ,परम पूज्य श्री सुरेश आचार्य , के के श्रीवास्तव, संजय जैन ,हरि ओम शंकर ,रोहन सिंह ,मोहन श्याम, नारायण सिंह ,अभिषेक आदि उपस्थित रहे।