बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर-राइटर कादर खान का 81 वर्ष की उम्र में निधन 

अभिनेता कादर खान का निधन, भारी पड़ा नए साल का पहला दिन नए साल का पहला ही दिन बॉलीवुड के लिए बेहद खराब रहा। दिग्गज एक्टर-राइटर-निर्देशक कादर खान का 81 की उम्र में निधन हो गया है। उनके बेटे सरफराज खान ने निधन के खबर की पुष्टि की है। कनाडा के एक अस्पताल में कादर खान ने अंतिम सांस ली. मौत की खबर से बॉलीवुड सदमे में है।
एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान शक्ति कपूर का गला भर आया। उन्होंने कहा, अब कादर खान जैसा कोई नहीं होगा।
हाल ही में कादर खान की बीमारी के बाद मौत की अफवाह भी उड़ी थी. बाद में उनके बेटे सरफराज ने कहा था,”ये बातें फर्जी हैं और सिर्फ अफवाह भर हैं, मेरे पिता अस्पताल में हैं.” कादर खान को सांस लेने में तकलीफ है। डॉक्टर्स ने उन्हें रेगुलर वेंटीलेटर से हटाकर BiPAP वेंटिलेटर पर रखा गया था।
कनाडा में कादर खान का इलाज चल रहा था। उनकी सलामती के लिए अमिताभ बच्चन ने भी ट्वीट किया था। लेकिन लोगों को हंसाने वाला अभिनेता अब नहीं रहा। अमिताभ ने कादर खान के साथ दो और दो पांच, मुकद्दर का सिकंदर, मि. नटवरलाल, सुहाग, कूली और शहंशाह में काम किया है।
हरफनमौला थे कादर खान
कादर खान हरफनमौला कलाकार थे। उनकी और गोविंदा की जोड़ी को परदे पर काफी पसंद किया गया. इनमें दरिया दिल, राजा बाबू, कुली नंबर 1, छोटे सरकार, आंखें, तेरी पायल मेरे गीत, आंटी नंबर 1, हीरो नंबर 1, राजाजी, नसीब, दीवाना मैं दीवाना, दूल्हे राजा, अखियों से गोली मारे आदि फिल्में कीं।

वैसे कादर खान ने खलनायक और तमाम चरित्र भूमिकाएं भी कीं. उन्होंने कई फिल्मों का निर्देशन भी किया. उन्होंने कई फिल्मों के मशहूर संवाद भी लिखे. पिछले कुछ समय से अस्वस्थता के चलते उन्होंने फिल्मों से पूरी तरह दूरी बना ली थी।

फोटो। इटरनेट