Breaking News
Home / ताजा खबर / बहुजन उत्पीड़न के खिलाफ भीम आर्मी ने दिया राज्यपाल के नाम ज्ञापन

बहुजन उत्पीड़न के खिलाफ भीम आर्मी ने दिया राज्यपाल के नाम ज्ञापन

आगरा-  भीम आर्मी भारत एकता मिशन, उत्तर प्रदेश के समस्त कार्यकर्ता, पदाधिकारी ने उ0 प्र0 में हो रहे बहुजन उत्पीडन एवं अत्याचार के खिलाफ ज्ञापन दिया जिसमें बिंदु बार घटनाओं  का विवरण दिया जिसमें बताया गया कि कब कहाँ और किस प्रकार का शोषण हुआ है। पिछले लोकसभा चुनाव के बाद से ही बैमनस्यतापूर्ण हीन भावना के साथ बहुजन समाज का निरंतर शोषण किया जा रहा है। जिनका ब्यौरा निम्नबार है :-

1. जनपद अमरोहा में अनु सूचित जाती की बारात चढ़ रही थी जिसमें बाबा साहब डॉ आंबेडकर जी के गाने बज रहे थे। इस बात का विरोध वहां के स्थानीय शवर्णो द्वारा किया गया, जब SC समाज ने पुलिस बुलायी तो उल्टे पुलिसकर्मियों ने 40-42बारातियों के खिलाफ मुकद्दमा पंजीकृत कर दिया।

2. उत्तर प्रदेश बार कॉउन्सिल की नव निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष कु. दरवेश यादव को आगरा के दीवानी परिसर में गोली मारकर हत्या कर दी गयी। जब कानूनी न्याय दिलाने वाले लोग भी सुरक्षित नहीं हैं तो आप आदमी की सुरक्षा का जीम्मेदर कौन ?

3. अभी हाल ही में पूर्वांचल में बसपा नेता की हत्या जिसमे अभी तक दोषियों की गिरफ्तारी भी नहीं कि गयी है।

4. अलीगढ़ में 2 वर्ष की बच्ची की बलात्कार व निर्मम हत्या से सपष्ट है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था चरमराई हुई है।

5. जनपद सुल्तानपुर के रविन्द्र यादव की निर्मम हत्या तेजाब पिलाकर जायसवाल समाज ने कर दी गिरफ्तारी अभी तक नहीं हुई।

6. जनपद प्रतापगढ़ में बहुजन समाज के युवक के हाथ – पैर काटकर शवर्णो द्वारा ज़िंदा जलाकर मार दिया गया है। घटना के दोषियों को तत्काल गिरफ्तार कर कठोरतम कार्यवाही करें।

7. जनपद गाज़ियाबाद में आरएसएस के गुंडों द्वारा इंदिरापुरम में धार्मिक स्थल मस्जिद की दीवार व गेट तोड़ दिया गया। वहां की स्थति का जायजा लेने व सौहार्दपूर्ण वातावरण निर्माण के उद्देश्य से जा रहे भीम आर्मी प्रमुख एड चन्द्र शेखर आज़ाद को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। ये पूर्णरूप से असंवैधानिक है। पुलिस द्वारा भीम आर्मी प्रमुख के अलावा उनके साथियों के साथ बदसलूकी की है। इसमें दोषी पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की हम मांग करते हैं।

इसके साथ ही आज हैंडपंप या कुँए से बहुजन समाज को पानी न भरने देना, स्कूलों में मिड डे मील में बहुजन समाज के बच्चों के साथ भेदभाव करना, SC ST के कर्मचारियों का शोषण करना, सफाई कर्मचारियों की गटर की सफाई कार्य मे मौतें होना, पुलिस थानों व चौकियों में बहुजन समाज की आवाज को दबाना और उनका शोषण करना आम हो चुका है।

महामहिम इस सभी घटनाओं को लेकर भीम आर्मी गंभीर है और आपसे अनुरोध करती है कि आप अपने संबैधानिक अधिकारों का प्रयोग कर इन पर अंकुश लगाए और राष्ट्रपति शासन लागू करे।

About

x

Check Also

पीएम की अश्लील चित्र सोशल मीडिया ( फेसबुक ) पर डालने पर जनता में आक्रोश,रिपोर्ट दर्ज 

+10  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के चित्र अश्लील चित्र डालने पर भारतीय जनता पार्टी के ...