Breaking News
Home / राष्ट्रीय / एम्बुलेंस न मिलने पर गर्भवती पत्नी को रिक्शे पर लेकर जिला महिला अस्पताल पंहुचा पति। 

एम्बुलेंस न मिलने पर गर्भवती पत्नी को रिक्शे पर लेकर जिला महिला अस्पताल पंहुचा पति। 

नीरज चक्रपाणि
हाथरस। स्वास्थ्य सेवाओं की खुली पोल जिले में फेल हुई 108 एम्बुलेंस सेवा। घंटो 108 नंबर पर कॉल करने के बाद भी गर्भवती महिला को नहीं मिली 108 एम्बुलेंस सेवा। एम्बुलेंस न मिलने पर गंभीर हालत में गर्भवती पत्नी को रिक्शे पर लेकर जिला महिला अस्पताल पंहुचा पति।
 आपको बता दे हाथरस जिले में स्वास्थ सेवाएं सुधरने का नाम नहीं ले रही है। जिले में आये दिन स्वास्थ्य विंभाग की लापरवाही मामले सामने आते रहते हैं। ऐसा ही एक मामला बीते 23 जून दिन रविवार की देर रात जिला महिला अस्पताल में देखने को मिला जिसने जिले में गर्भवती महिला मरीजों को मिलने वाली सरकारी योजनाओ की पोल खोल कर रख दी है। इसका एक नजारा जिला महिला अस्पताल में उस वक्त देखने को मिला जब हाथरस के थाना सदर कोतवाली क्षेत्र के लाला का नगला निवासी मोहशिम अपनी गर्भवती पत्नी निशा को गंभीर हालत में रिक्शे में डालकर जिला महिला अस्पताल पंहुचा हुआ था।
मोहशिम का कहना देर रात उसकी गर्भवती पत्नी निशा की अचानक से तबियत बिगड़ गयी जिसको एम्बुलेंस से जिला महिला अस्पताल ले जाने के लिए घंटो 108 नंबर पर कॉल किया कई बार तो फ़ोन नहीं लगा और जब फ़ोन लग गया तो उसको कोई जबाब नहीं मिला जिसके चलते। वह अपनी पत्नी को उपचार के लिए रिक्शे में डालकर जिला महिला अस्पताल लेकर पंहुचा। यहां भी स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने वाली सरकार में बदहाल सिस्टम की मार देखने को मिली है। जिसके चलते मोहशिम की गर्भवती पत्नी निशा को जिला महिला अस्पताल पहुँचने पर भी स्टेचर नहीं मिला। प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे में स्वास्थ सेवाओं को बेहतर रखने के निर्दश जिम्मेदारों को दिए है लेकिन जनपद हाथरस में इसका असर होता नजर नहीं आ रहा। एक के बाद एक सामने आते मामले जिले में लचर हो चुकी स्वास्थय सेवाओं की पोल खोल रहे हैं।

About

x

Check Also

गेंहू की खड़ी फसल में आग लगने से किसान के घर मातम

00 फ़िरोज़ाबाद । जसराना थाना क्षेत्र के कुशियारी गांव में उस समय कोहराम मच गया ...