Breaking News
Home / आगरा / आंखें भर आईं जब 28 साल पुलिस की नौकरी में पहली बार चौकी व थाना स्टाफ ने मनाया जन्मदिन

आंखें भर आईं जब 28 साल पुलिस की नौकरी में पहली बार चौकी व थाना स्टाफ ने मनाया जन्मदिन

महावीर सिंह फौजदार की रिपोर्ट

आगरा पुलिस की नौकरी में जन्मदिन मनाना तो दूर जन्मदिन तक याद नहीं रहता है, ऐसा ही कुछ आगरा के थाना एत्माउददोल्ला में डिवीजन चौकी प्रभारी पुष्पेंद्र कुमार के साथ हुई, जिन्हें मालूम ही नहीं था कि 15 अक्टुबर को उनका जन्मदिन है. अचानक थाना प्रभारी उदयवीर सिंह मलिक ने केक मंगाकर काटने के लिए कहा तब वो एक पल के लिए खुद भी अचरज में पड़ गए, और आंखें भर आई.दरअसल, आगरा ssp बबलू कुमार ने पुलिसवालों में आपसी सामंजस्य बनाने के लिए कुछ नवाचार करने की मंशा जाहिर की थी, जिसे संज्ञान में रखते हुए आगरा एत्माउददोल्ला थाना प्रभारी उदयवीर सिंह मलिक ने थाने के चौकी प्रभारी का केक काटकर जन्मदिन मनाने की परंपरा की शुरुआत की गई है।

इसी कड़ी में मंगलवार को डिवीजन चौकी प्रभारी पुष्पेन्द्र कुमार जन्म दिन था लेकिन उन्हें खुद भी इसके बारे में पता नहीं था अचानक थाना प्रभारी ने पुलिसवालों को बुलाकर केक काटने के लिए कहा, जिसके बाद 28 सालों से परिवार से दूर रहकर पुलिस की नौकरी कर रहे पुष्पेंद्र कुमार की आंखे अपनापन पाकर आंखे भर आईं, क्योंकि परिवार से दूर सर्विस करने के कारण आज तक इस तरह से जन्मदिन नहीं मना पाए है।

नौकरी ऐसी कि याद नहीं रहता जन्मदिन

वही अनोखी पहल पर सब इस्पेक्टर ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस हड़बड़तोड़ नौकरी में अपने जन्मदिन खुद याद नहीं रहता, लेकिन आज थाना प्रभारी द्वारा जिस तरह से आज पहल की गई, नौकरी में रहते वक्त पहली बार थाना परिसर में जन्मदिन मनाने का ऐसा मौका मिला है, जिससे बेहद खुशी हुई है। वहीं थाना प्रभारी उदयवीर सिंह मलिक व सब इस्पेक्टर दीपक चौहान ने कहा कि पूरा स्टाफ मेरे परिवार की तरह है, जिस तरह परिवार में किसी सदस्य का जन्मदिन होता है, वह जन्मदिन मनाते हैं। इसके तहत यह रिवाज थाने में शुरू की गई है, जिसकी चलन की जा रही है क्योंकि कई स्टाफ है जो अपने परिवार से दूर रहते है।

महकमे हाे रही तारीफ
एसएसपी बबलू कुमार की इस पहल की महकमे भी जमकर तारीफ हाे रही है। पुलिसकर्मियाें का कहना है कि यह पहली बार है जब विभाग की आेर से उनके जन्मदिन जैसे कार्यक्रम काे याद रखा जा रहा है। पुलिसकर्मियाें का कहना है कि दिन-रात की ड्यूटी करने के बाद उन्हें कभी अपना जन्मदिन मनाने की फुरसत ही नहीं मिलती आैर जब परिवार के दूर रहते हैं ताे ये सब खुशियां मनाते हुए भी अकेलापन सा महसूस करते हैं, लेकिन अब जिस तरह से एसएसपी बबलू कुमार ने पहल की है। उससे लगता है कि यह महकमा भी उनका परिवार है और परिवार की तरह ही महकमे में स्टाफ के लाेग उनका जन्मदिन मना रहे हैं।

About

x

Check Also

बाढ़ पीडितों की मदद को आगे आईं विधायक रानी पक्षालिका सिंह

+10 खबर – शशि शर्मा आगरा। चंबल का जलस्तर खतरे का निशान पार करने से ...