Breaking News
Home / सेहत / किस गाँव में डेंगू पसार रहा है पैर ,एस बिमारी से एक कि हो चुकी है मौत

किस गाँव में डेंगू पसार रहा है पैर ,एस बिमारी से एक कि हो चुकी है मौत

सासनी – गांव में डेंगू ने करीब एक माह से भी अधिक समय से अपने पांव पसार लिए हैं इसके लिए करीब बीस दिन पूर्व गांव में चिकित्सकों की टीम गई और कुछ लोंगों  को दवा देकर अपने कार्र की इतिश्री कर आई मगर स्थाई उपचार नहीं  दिया। गांव में एक बार फाॅगिंग की गई। वह भी कुछ इलाकों में इससे डेंगू ने अपने पांव पूरी तरह पसार लिए। जिससे घर-घर में लोग चारपाईयों पर पड गये। सरकारी अस्पतालों में सही उपचार न होने के कारण लोगों ने प्राईवेट चिकित्सकों के यहां उपचार कराए जिससे कई लोगों को उपचार के लिए कर्जदार होना पडा। वहीं गांव में बुधवार की देर शाम चैबीस वर्षीय, युवक मुकेश की मौत हो गई। जिसे लेकर परिजनों में कोहराम मच गया।

गाँव में लगा चिकित्सा शिविर 

इसकी सूचना जब स्वास्थ्य विभाग को हुई तो अधिकारियों में खलबली मच गई। आनन-फानन में एमओआईसी डा. प्रदीप रावत के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया और टीम को गुरूवार की सुबह गांव रवाना किया गया। जहां चिकित्सकों की टीम ने घर-घर जाकर लोगों का हाल पूछा, बीमार लोगों को प्राईमरी पाठशाला में शिविर लगाकर दवायें वितरित कीं। ग्रामीणों ने बताया कि ऐसा कोई घर बाकी नहीं है, जिसमें एक व्यक्ति बीमार न हो। जो लोग आर्थिक स्थिति से ठीक हैं, वह अपना उपचार प्राईवेट करा रहे है। मगर आर्थिक तंगी के चलते कुछ लोग सरकारी उपचार पर ही निर्भर है। मगर सरकारी अस्पतालों में भी दवाओं की उपलब्धता न होने के कारण उन्हें कर्ज लेकर अपना उपचार कराना पड रहा है। स्वास्थ्य शिविर लगाने वाली टीम में महिला चिकित्सक डा. अलका सेंगर, डा. इंदु सारस्वत, पीएन अवस्थी, फार्मासिस्ट अनिल जैसवाल, आकाश कुमार, एवं आशा मधु, हसीना, माधुरी, आदि मौजूद थे। डा. प्रदीप रावत ने बताया कि गांव में सैकडों लोगों को दवाओं का वितरण किया गया है। कुछ लोगों को रक्त जांच के लिए चिकित्सालय बुलाया गया है। जिन्हें जांच के बाद ही उपचार दिया जाएगा।

About

x

Check Also

आगरा में पहलीबार आईएमए( सीजीपी) का राष्ट्रीय अधिवेशन 22 -23 सितम्बर को

+20 खबर-  शशि शर्मा / वीरेन्द्र सिंह आगरा – मोतीबाग दयालबाग आगरा पर एक प्रेसवार्ता ...