Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / आजादी मार्च में मौलाना फजलुर की मांग- इमरान 48 घंटे में इस्तीफा दें, देश बेचने का आरोप

आजादी मार्च में मौलाना फजलुर की मांग- इमरान 48 घंटे में इस्तीफा दें, देश बेचने का आरोप

इस्लामाबाद-  प्रधानमंत्री इमरान खान के इस्तीफे की मांग पर अड़े मौलाना फजलुर रहमान का आजादी मार्च शुक्रवार को इस्लामाबाद पहुंच गया। मौलाना ने करीब दो लाख प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए सरकार को अल्टीमेटम दे दिया। कहा- हम इमरान खान को दो दिन यानी 48 घंटे का वक्त देते हैं। वे इस्तीफा दें और घर जाएं। पाकिस्तान ने इमरान से ज्यादा बेगैरत प्रधानमंत्री नहीं देखा। उन्होंने मुल्क को बेच दिया है। इस्लामाबाद पहुंचे इस आजादी मार्च में नवाज शरीफ के भाई शहबाज और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो भी शामिल हुए।

  • मौलाना फजलुर रहमान का आजादी मार्च शुक्रवार को इस्लामाबाद पहुंचा, करीब दो लाख लोग शामिल
  • मौलाना के मार्च में नवाज के भाई शहबाज और बिलावल भुट्टो भी शामिल, सरकार पर दबाव बढ़ा
  • बिलावल ने कहा- इमरान ने हर मुद्दे पर लोगों को धोखा दिया, भारत ने कश्मीर में जो कुछ किया, उसको रोक भी नहीं पाए

सिलेक्टेड पीएम मंजूर नहीं
मौलाना से पहले बिलावल भुट्टो ने भाषण दिया। कहा, “हम ऐसे प्रधानमंत्री को इज्जत नहीं दे सकते जो इलेक्टेड नहीं, सिलेक्टेड है। विपक्ष के नेताओं को जेल भेजकर वे डेमोक्रेसी के नाम पर तानाशाही चला रहे हैं। अवाम भुखमरी की कगार पर है।” मौलाना रहमान ने भी भुट्टो की बात का समर्थन किया। कहा, “इमरान ने हर मुद्दे पर लोगों को धोखा दिया। वे कश्मीर का राग अलापते हैं। भारत ने कश्मीर में जो कुछ किया। उसको रोक भी नहीं पाए। मुस्लिम वर्ल्ड की बात करते हैं लेकिन यूएन में 5 मुल्कों का समर्थन हासिल नहीं कर सके। 48 घंटे का वक्त है। वे कुर्सी छोड़ें। अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम आगे की रणनीति बनाकर आए हैं। खाली हाथ लौटकर जाने का इरादा नहीं है।

Read More

About

x

Check Also

कौन सा देश खरीद रहा है शादी के लिए पाकिस्तानी लडकियों को

00 बीबीसी  ने अपनी खबर में पड़ताल के अनुसार पिछले साल, जब ये ख़बर सामने ...