Breaking News
Home / क्राइम / दूसरों को साजिस के तहत फंसाने के चक्कर में खुद फंसी जाने क्या था मामला ?

दूसरों को साजिस के तहत फंसाने के चक्कर में खुद फंसी जाने क्या था मामला ?

आगरा के सिकंदरा क्षेत्र में रहने वाली बीए की छात्रा ने दोपहर एक बजे कंट्रोल रूम को अपने साथ सामूहिक दुष्कर्म की सूचना दी। खुद को पचोखरा थाना क्षेत्र में कहीं बताया। थाने लाने पर छात्रा ने बताया कि उसका भाई पेंटर है। बुधवार सुबह नौ बजे कोचिंग जा रही थी, इसी बीच भाई के दोस्त राजा उर्फ रोबिन ने फोन करके सूचना दी कि तुम्हारे भाई का एक्सीडेंट हो गया है। जल्दी से खंदारी चौराहे पर आ जाओ। खंदारी चौराहे पर बोलेरो गाड़ी में राजा, ज्ञानेंद्र, गीतम और एक अन्य मिले। वो गाड़ी में बैठ गई। एत्मादपुर क्षेत्र में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और फिर पचोखरा के पास छोड़कर चले गए।

एसएसपी सचिंद्र पटेल ने बताया कि फीरोजाबाद में सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करने के साथ ही पुलिस टीमों को हाथरस दौड़ा दिया। यहां से राजा, ज्ञानेंद्र, गीतम को दबोच लिया गया। तीनों से पूछताछ और पड़ताल में वारदात की कहानी ही बदल गई। बकौल एसएसपी हाथरस के गांव मेडू निवासी अनिल बॉक्सर छात्र का प्रेमी है। अपने विरोधियों गांव के ही राजा, ज्ञानेंद्र और गीतम को फंसाने के लिए अनिल के कहने पर ही छात्रा ने ही ये ड्रामा किया। अपने बयान में छात्रा ने स्वीकार किया कि प्रेमी के कहने पर उसने अपने भाई के दोस्तों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया था। पुलिस अनिल की तलाश कर रही है।

आइजी ए सतीश गणेश ने बताया कि फीरोजाबाद, आगरा व हाथरस पुलिस ने सात घंटे में ही इस मामले का पर्दाफाश कर दिया। फीरोजाबाद के एसएसपी व एसपी सिटी , आगरा के एसएसपी, एसपी सिटी व सीओ एत्मादपुर, सीओ टूंडला, एसपी हाथरस व पुलिस टीमों को सराहनीय कार्य के लिए प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।

About

x

Check Also

रिश्तेदारी की शादी में गए गृहस्वामी के चोरों ने ताले चटकाये

00 आगरा – छत के रास्ते घर में घुसे अज्ञात चोर, ताले चटका कर लाखों ...