Breaking News
Home / आगरा / पार्क में बिखरे नोट कोरोना वायरस का डर बुलाई पुलिस नहीं लगाया हाथ

पार्क में बिखरे नोट कोरोना वायरस का डर बुलाई पुलिस नहीं लगाया हाथ

आगरा (अवधेश यादव की रिपोर्ट) कोरोनावायरस के कारण लोगों के दिलों में दहशत से जुड़ा एक दिलचस्प मामला सामने आया है आवास विकास कॉलोनी सेक्टर 8 के पार्क में शुक्रवार को पार्क मैं नोट पड़े थे लेकिन किसी ने भी इन नोटों को हाथ लगाने के बारे में सोचा तक नहीं उन्हें लगा कि हो सकता है किसी ने कोरोनावायरस फैलाने के उद्देश्य से नोट यहां गिराए हो जिस कोरोनावायरस के डर के कारण नोटों को उठाकर अपनी जेब में भी नहीं डाला लोगों को आशंका थी कि कहीं ये किसी की साजिश ना हो और नोटों को कोरोना संक्रमित करके इस तरह से पार्क में फेंक दिया हो. आगरा की आवास विकास कॉलोनी सेक्टर 8 के पार्क में 10 , 50 और 100 के नोट पड़े थे लेकिन कोरोनावायरस महामारी के चलते किसी ने उनको उठाने की हिम्मत नहीं की मौके पर पहुंचकर पुलिस ने भी एहतियात बरतते हुए नोटों को साथ ले गई।

कोरोना संक्रमित नोट होने के डर से लोगों ने हाथ नहीं लगाया और पुलिस को इसकी जानकारी दी । प्राप्त जानकारी के अनुसार आवास विकास कॉलोनी के सेक्टर 8 में शुक्रवार तड़के स्थानीय युवक अपने मकान के बाहर टहल रहा था तभी उसकी नजर कॉलोनी के पार्क की दीवाल के पास पड़ी वहां पर 10, 50 और 100 के नोट पड़े दिखाई दिए पहले तो युवक को लगा कि वह किसी के गए होंगे लेकिन कॉलोनी मैं आसपास पूछते पर भी नोटों के बारे में कोई कुछ नहीं बता इस पर किसी साजिश का अंदेशा हुआ उसने पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुंची पुलिस ने कालोनी वासियों से जानकारी ली लेकिन कोई कुछ बता नहीं सका पुलिस कर्मियों ने पहले नोटों को जलाने का निर्णय लिया आशंका थी कि छूने से कहीं कोरोनावायरस इन बाद में कॉलोनी वासियों ने रुपए साथ ले जाने के लिए कहा इस पर पुलिसकर्मी पॉलिथीन में नोटों में रख कर ले गए नोट पार्क में कहां से आए और किसके हैं इस बारे में पुलिस छानबीन कर रही है।

About

x

Check Also

पत्रकार पर फर्जी मुकदमे को लेकर लगाई न्याय की गुहार

00 उ0प्र0 संयुक्तत पत्रकार समिति के पदाधिकारियों ने आईजी से की मुलाकात मामले की गंभीरता ...