Breaking News
Home / धर्म संस्क्रति / सिख्ख गुरुओं के चरण छोह प्राप्त स्थानों से भेजी गई रज भगवान राम की जनम स्थली

सिख्ख गुरुओं के चरण छोह प्राप्त स्थानों से भेजी गई रज भगवान राम की जनम स्थली

गुरुओं के चरण छोह प्राप्त स्थानों से भेजी गई रज भगवान राम की जनम स्थली
आगरा। बहुप्रतीक्षित राम जन्म भूमि पर मंदिर निर्माण की नीव प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 5 अगस्त को अयोध्या में रखी जा रही है। इसके लिए विश्व हिन्दू परिषद् द्वारा सम्पूर्ण देश ही नहीं विदेशों के पवित्र धार्मिक स्थलों से रज एकत्रित करके अयोध्या पहुंचाई जा रही है।इसी परिपेक्ष्य में आगरा में सिक्ख गुरुओं की चरण छोह प्राप्त स्थानों से(गुरुद्वारों) गुरुद्वारा गुरु के ताल,लोहा मंडी नया बांस,माई थान एवं गुरुद्वारा हाथी घाट से चरण रज एकत्रित करके गुरुद्वारा गुरु के ताल के बाबा प्रीतम सिंह द्वारा विश्व हिन्दू परिषद् के कार्यकर्ताओं को पवित्र रज प्रदान की गयी।
इससे पूर्व बाबा प्रीतम सिंह जी ने सभी को इस घड़ी की मुबारक बाद दी और कहा कि आगरा में उपरोक्त स्थानों पर चारो गुरुओं के चरण पड़े और हम सभी के लिए हर्ष का विषय है कि मंदिर की नीव रखी जा रही है।
विश्व हिन्दू परिषद के प्रांत संगठन मंत्री सुनील जी ने बताया की हम सभी को कॉरोना काल में सरकार द्वारा जारी गाइड को पालन करते हुए अपनी खुशी मनानी है कहीं भी भीड़ एकत्रित नहीं करनी है सोशल डिस्टेंस का पालन करना है हा सभी घरों में इस अवसर पर रात्रि में घी के दीपक अवश्य जलाए वैसे तो देश और विदेश के सभी धार्मिक स्थानों से रज एकत्रित करके अयोध्या पहुंचाई जा रही लेकिन ऐसे स्थान से जहा गुरुओं ने अपना सरबंस न्योछावर कर ये गर्व कि बात है।
इस अवसर पर उपरोक्त के अतिरिक्त समन्वयक बंटी ग्रोवर,विहिप के प्रांत उपाध्यक्ष सुनील पाराशर,दिग्विजय नाथ तिवारी,राकेश त्यागी आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही

About

x

Check Also

क्यों मनाते है नाग पंचमी ? कैसे उठाएं सभी राशि वाले इसका लाभ एवं क्या है पूजन विधि?

00 क्यों मनाते है नाग पंचमी- हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। हिन्दू पंचांग के अनुसार ...