Breaking News
Home / धर्म संस्क्रति / अनलॉक में घर में अदा की ईद की नमाज सेवइयां से मुंह मीठा कर दी बधाई

अनलॉक में घर में अदा की ईद की नमाज सेवइयां से मुंह मीठा कर दी बधाई

अवधेश यादव की रिपोर्ट

आगरा कुर्बानी के पर्व ईद-उल-अजहा पर इस बार लॉकडाउन और कोरोना का असर साफ दिख रहा है। हमेशा की तरह इस बार त्योहार की रौनक देखने को नहीं मिल रही है। योगी आदित्यनाथ सरकार की गाइडलाइंस को देखते हुए इस बार कुर्बानी खुले में नहीं की गई साथ ही सामूहिक तौर पर नमाज पर भी पाबंदी भी रही घरों में नमाज पढ़ी गई, जबकि कई जगह सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लोगों ने दुआ की।

  • बकरीद पर देखा गया लॉकडाउन का असर
  • मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का रखा ध्यान खुले में नहीं हुई कुर्बानी
  • लॉकडाउन के बीच घर में अदा की ईद की नमाज सेवइयां से मुंह मीठा कर दी बधाई

बकरीद पर्व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाया गया। शनिवार को सुबह से ही घरों से लेकर मस्जिदों तक नमाज का दौर शुरू हुआ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मस्जिदों में केवल पांच लोगों ने नमाज अदा की। नमाज के बाद लोगों ने एक दूसरे को बकरीद की बधाई दी। नमाज के बाद अब घरों में कुर्बानी का सिलसिला शुरू हुआ
दो दिन के लॉकडाउन और बकरीद को लेकर जिलों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई अल्प समुदाय के लोगों ने घर पर ही अदा की ईद की नमाज, सेवइयों से मुंह मीठा कर दी बधाई खरीदारी के लिए शुक्रवार देर रात तक दुकानों पर भीड़ नजर आई। लॉकडाउन में सन्नाटे में रहे दुकानदारों की बिक्री ने महीनभर की एक दिन में पूरी कर ली
कुर्बानी के लिए जानवरों के बाजारों में दिनभर भीड़ रही। वहीं ईद बकरीद के खास पकवान सेवईयों की खरीदारी हुई। बकरीद और रक्षाबंधन को लेकर शुक्रवार को बाजार मेें खासी भीड़ उमड़ी। महिलाओं की खासी तादाद रही। लॉकडाउन के बाद पहली बार इतनी चहल-पहल दिखी। भीड़ से सामाजिक दूरी का नियम टूट गया।
ज्यादातर ग्राहक बिना मास्क के नजर आए। शनिवार को बकरीद सोमवार को भाई बहन का प्रेम का त्यौहार रक्षाबंधन का पर्व हर्षोल्लास के मनाया जाएगा। सूत्रों के अनुसार इस बार जेल में कैदी भाइयों की कलाई सुनी रह सकती हैं शनिवार और रविवार को लॉकडाउन है। इससे शुक्रवार को दोनों समुदाय के लोगों की बाजार में खासी भीड़ रही कपड़ों, किराना, मिठाई, सेवईं और राखियों की दुकानों से खूब खरीदारी की गई महिलाओं ने राखी, साड़ियों और सूट की खरीद की

About

x

Check Also

क्यों मनाते है नाग पंचमी ? कैसे उठाएं सभी राशि वाले इसका लाभ एवं क्या है पूजन विधि?

00 क्यों मनाते है नाग पंचमी- हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। हिन्दू पंचांग के अनुसार ...