November 26, 2020
पॉलिटिक्स

भाजपा के इस ‘चाणक्य’ ने तो कमाल कर दिया

आगरा- भाजपा नेतृत्व ने जिस विश्वास के साथ क्षेत्रीय संगठन मंत्री भवानी सिंह को बिहार विधानसभा चुनाव की कमान संभालने भेजा था, वह उसमें फिर से खरे उतरे हैं। बिहार विधानसभा  चुनाव में राजग को सफलता दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाकर भावानी सिंह ने अपने को एक बार फिर चुनावी रणनीति का चाणक्य साबित कर दिया है। जिस क्षेत्र की उन्हें जिम्मेदारी सौंपी गई थी, वहां पर भाजपा-जदयू गठबंधन ने शानदार प्रदर्शन किया है। इस क्षेत्र की करीब आधे से ज्यादा सीटों पर गठबंधन ने अपना परचम फहराया है।

गौरतलब है कि संगठन मंत्री भावानी सिंह को चुनावी तारीखों का ऐलान होने से पहले ही पार्टी ने बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए भेज दिया था। वहां पर उन्हें मिथलांचल क्षेत्र की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। दरअसल ये वह क्षेत्र था जहां भाज्पा अपने को कमजोर मान रही थी। तीन महीने तक दिन-रात एक कर उन्होंने गठबंधन धर्म के तहत भज्पा  व जदयू कार्यकर्ताओं के साथ समन्वय के साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश धरने का काम किया। मतदान प्रक्रिया समाप्त होने के बाद वह आगरा वापस आ गए थे। गत दिवस चुनाव परिणाम की घोषणा के साथ ही मिथिलांचल क्षेत्र में भाजपा के बेहतर प्रदर्शन की खबर आते ही ब्रज क्षेत्र कार्यालय पर कार्यकर्ताओं का जुटना प्रारंम्भ  हो गया। कार्यकर्ताओं ने संगठन मंत्री भवानी सिंह का जोरदार स्वागत किया। परिणामों को देखकर वह खुद भी काफी प्रसन्न थे। पार्टी नेतृत्व भवानी सिंह को एक कुशल संगठनकर्ता के साथ ही चुनावी गणित का माहिर मानता है। विधानस•ाा और लोकसभा  चुनाव में भी उन्हीं के नेतृत्व में ब्रज और कानपुर क्षेत्र में भाजपा ने बेहतर प्रदर्शन किया था। इसी वजह से उन्हें बिहार चुनाव में उन्हें मिथिलांचल क्षेत्र की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इस क्षेत्र में करीब 60 विधानसभा  क्षेत्र आते हैं।

भाजपाइयों ने किया स्वागत– बिहार विधानसभा चुनाव की मतगणना में मिथिलांचल क्षेत्र में भाजपा-जदयू गठबंधन को बाजी मारने की जानकारी मिलने के साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं का ब्रज क्षेत्र कार्यालय पर जुटना प्रारंम्भ हो गया। उन्होंने भवानी सिंह का फूल-माला पहनाकर स्वागत करने के साथ ही मिठाइयां बांटी। कार्यालय पर ढोल-नगाड़ों की थाप पर कार्यकर्ता जमकर झूमे।

अब विधान परिषद की तैयारी– बिहार चुनाव से लौटने के बाद भवानी सिंह ने अब विधान परिषद चुनाव की कमान सं•ााल ली है। आगरा खंड स्नातक सीट पर हरनाथ सिंह यादव के बाद से भाजपा के प्रत्याशी को हार का ही सामना करना पड़ा है। इस सीट पर ज्यादातर भाजपा विरोधी दलों का कब्जा चलता आ रहा है। लेकिन इस बार भाजपा ने इस चुनाव में परचम फहराने की पूरी तैयारी कर ली है। भवानी सिंह ने बिहार से लौटने के बाद कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने के लिए लगातार संपर्क प्रारंम्भ कर दिया है।

भवानी सिंह ने बिहार के मिथिलांचल में भाजपा जदयू की कमजोर स्थिति को जीत में बदल दिया|

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *