March 3, 2021
अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट्स

नीलामी: कहीं खन-खन तो कहीं ठन ठन

इस साल की आईपीएल नीलामी की तस्वीर साफ हो गई। कई दिग्गज और अनजान खिलाड़ियों पर दौलत की खन-खन गूंजी तो कहीं खिलाड़ी ठन-ठन गोपाल रह गए। दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर क्रिस मौरिस आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी बने। मौरिस को राजस्थान रॉयल्स ने 16.25 करोड़ रुपये में खरीदा। वहीं, ऑलराउंडर कृष्णप्पा गौतम 9.25 करोड़ रुपये की बोली के साथ सबसे महंगे भारतीय रहे। गौतम को चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा। क्रिस मौरिस के बाद काइल जेमिसन (न्यूजीलैंड) दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी रहे। जेमिसन को रॉयल चैलेंजर्स बंगलुरू ने 15 करोड़ रुपये में खरीदा। इसी तरह, ऑलराउंडर ग्लैन मैक्सवेल (आस्ट्रेलिया) को रॉयल चैलेंजर्स बंगलुरू ने 14.25 करोड़ रुपये में अपने साथ जोड़ा।

मौरिस से पहले, आईपीएल इतिहास के सबसे महंगी कीमत पर बिकने वाले खिलाड़ी होने का रिकॉर्ड युवराज सिंह के नाम था, जिन्हें 2015 में दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) ने 16 करोड़ रुपये में खरीदा था।

नीलामी के लिए 292 खिलाड़ी शॉर्टलिस्ट किए गए थे। इनमें से सिर्फ 57 पर ही बोली लगी। लीग की आठ फ्रेंचाइजी ने 145 करोड़ रुपए से ज्यादा की बोली लगाकर इन 57 खिलाड़ियों को अपनी टीम में शामिल किया। इस तरह इन खिलाड़ियों के लिए 18 फरवरी किसी दिवाली से कम नहीं रही। दूसरी ओर, उन 236 खिलाड़ियों के लिए यह दिन निराशाजनक ही रहा, जो शॉर्टलिस्ट होकर भी किसी टीम में नहीं चुने गए। इन अनबिके खिलाड़ियों (अनसोल्ड प्लेयर्स) में कई ऐसे नाम है, जो अपनी देश की टीमों को एकतरफा जीत दिलाते रहे हैं।

आईपीएल के अनसोल्ड प्लेयर्स पर नजर डालें तो एकबारगी हैरानी होती है। लगता है कि कोई टीम इन पर दांव लगाने से खुद को कैसे रोक सकती हैं। जरा इनके नाम देखिए, ऑस्ट्रेलिया के एरॉन फिंच, न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल, इंग्लैंड के जेसन रॉय, एलेक्स हेल्स और वेस्टइंडीज के एविन लुईस. दुनिया जानती है कि जब ये खिलाड़ी अपनी लय में होते हैं कि किसी भी बॉलिंग अटैक के परखच्चे उड़ा देते हैं। भारत के हनुमा विहारी, ऑस्ट्रेलिया के मार्नस लैबुशेन, शॉन मार्श, दक्षिण अफ्रीका के रासी वान डर डुसेन को भी किसी टीम ने अपने साथ जोड़ने लायक नहीं समझा।

अब जरा गेंदबाजों पर नजर डाल लेते हैं। ऑस्ट्रेलिया के जेसन बेहरेनडॉर्फ, सीन एबॉट, न्यूजीलैंड के मिचेल मैकलिंघन, वेस्टइंडीज के शेल्डन कॉट्रेल, ओशाने थॉमस जैसे गेंदबाजों को आईपीएल 2021 की नीलामी में कोई खरीदार नहीं मिला। ऑस्ट्रेलिया के बिली स्टेनलेक, बेन मैक्डरमॉट, श्रीलंका के इसुरु उदाना, थिसारा परेरा, दक्षिण अफ्रीका के वेन पर्नेल, इंग्लैंड के आदिल राशिद, न्यूजीलैंड के ईश सोढ़ी, नेपाल के संदीप लमिछाने, ना बिकने वाले गेंदबाजों की लिस्ट को लंबी करते जाते हैं। न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन, ऑस्ट्रेलिया के क्रिस ग्रीन जैसे ऑलराउंडर को किसी ने घास नहीं डाली।

काल्पनिक, लेकिन दिलचस्प बात यह है कि अगर हम इन अनबिके खिलाड़ियों से सजी प्लेइंग इलेवन बनाएं तो वह इतनी मजबूत नजर आती है कि किसी भी देश की बेहतरीन टीम को हराने का माद्दा रखती है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *