March 5, 2021
ताजा मनोरंजन

बेशक मंदिर मस्जिद तोड़ो…अब चंचल शांति से आराम करेंगे

भजन सम्राट के तौर पर काफी मशहूर नरेंद्र चंचल का दिल्ली के अपोलो अस्पताल में शुक्रवार को निधन हो गया। भजन गाने मेें तो वह देश के सबसे बड़े स्टार साबित हुए, लेकिन बॉलीवुड के भी कई गाने सुपर हिट साबित हुए। चंचल को राज कपूर निर्देशित फिल्म बॉबी ‘बेशक मंदिर मस्जिद तोड़ो…’ गाने के लिए भी जाना जाता है। इस गाने के लिए उन्हें श्रेष्ठ गायक का फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिला था।
नरेंद्र चंचल का जन्म 16 अक्टूबर 1940 में पंजाब के अमृतसर शहर के नानक मंडी में हुआ था और उनका पालन-पोषण बेहद धार्मिक माहौल में हुआ था। माता रानी के जगराता में भजन गाने के लिए बेहद लोकप्रिय रहे। वर्ष 1973 में रिलीज हुई ‘बॉबी’ के अलावा उन्हें 1974 में अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘बेनाम’ के शीर्षक गीत को प्रस्तुत करने के लिए जाना जाता है, जिसे आरडी बर्मन ने संगीतबद्ध किया था। उसी वर्ष, उन्होंने फिल्म ‘रोटी कपड़ा और मकान’ के लिए ‘महंगाई मार गई’ भी गाया। उन्होंने 1980 की हिट फिल्म ‘आशा’ के लिए मोहम्मद रफी के साथ ‘तू ने मुझे बुलाया’ भी गाया। लता मंगेशकर ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया, उन्होंने ट्वीट कर कहा, वह बहुत अच्छे इंसान थे। उन्होंने उम्मीद जताई कि वह अब शांति से आराम करेंगे।
इसके अलावा ‘बदनाम’, ‘अवतार’, ‘काला सूरज’, ‘अपने’ जैसी फिल्मों के लिए भी अपनी गायकी का जलवा दिखाया था। उनकी लोकप्रिय फिल्मों में फिल्म अवतार ‘चलो बुलावा आया है’, फिल्म काला सूरज ‘दो घूंट पिला दे’, फिल्म बेनाम ‘यारा ओ यारा’ रहे। सिंगिंग सुपरस्टार का बॉलीवुड में बड़ा मुकाम बनाने से पहले सफर काफी कठिनाइयों से गुजरा था।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *