March 5, 2021
Trending आगरा उत्तर प्रदेश सेहत

कोविशील्ड को को-वैक्सीन का साथ

  • जालमा संस्थान में लगाई जाएगी को-वैक्सीन की पहली डोज
  • 480 स्वास्थ्य कर्मियों को लगने के लिए 48 बाइल आगरा आयी

कोरोना से बचाव के लिए कोविशील्ड भले ही पहला टीका बन गई है, लेकिन इस बार स्वदेशी को-वैक्सीन भी साथ देने आ रही है। जिले में इस बार स्वास्थ्य कर्मियों को कोविशील्ड के साथ को-वैक्सीन भी लगाई जाएगी।ताजनगरी में वैक्सीनेशन के दूसरे चरण की तैयारियां तेज हो गई हैं। इस बार जहां कोविड-19 टीकाकरण केंद्रों व बूथों की संख्या अधिक होगी, वहीं लाभार्थियों की संख्या भी ज्यादा होगी। दूसरे चरण में दोनों वैक्सीन का इस्तेमाल किया जाएगा, साथ ही को-विन पोर्टल पर भी कुछ बदलाव किए जा रहे हैं।

आगरा जिले में 22, 28 और 29 को 37 केंद्रों पर 11,100 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए जाएंगे। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इसकी तैयारियों में जुटे हैं। प्रत्येक सेंटर के लिए 100 स्वास्थ्य कर्मियों को बुलाया गया है, यानि एक सेंटर पर केवल 100 लोगों को ही कोरोना से बचाव की यह वैक्सीन लगेगी। ताजनगरी में पहले चरण में 341 लोगों को कोविशील्ड लगाई गई थी, जिसकी दूसरी डोज 15 फरवरी को लगाई जाएगी। वहीं दूसरे चरण में कोविशील्ड के अलावा पहली बार को-वैक्सीन भी लाभार्थियों को लगाई जाएगी।

को-वैक्सीन की 48 बाइल आगरा आ चुकी हैं। इसमें से 480 लोगों को डोज लगाई जाएगी। फिलहाल 37 में से केवल एक जालमा संस्थान के केंद्र पर ही को-वैक्सीन लगाई जाएगी।इसके अलावा को-विन पोर्टल में भी कुछ बदलाव किए गए हैं। इसके लिए टीम में शामिल सदस्यों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इन बदलावों के जरिए लाभार्थी के रूम में पहुंचते ही पता लग जाएगा कि उसे वैक्सीन पहले लगी है या नहीं। पोर्टल में पंजीकृत, अपंजीकृत और वैक्सीनेशन प्वाइंट बढ़ाए गए हैं।

कोरोना काल की कड़ी परीक्षा कल – 3,700 स्वास्थ्य कर्मियों के मोबाइल पर आज पहुंचेंगे मेसेज

16 जनवरी को छह केंद्रों पर 600 लोगों को कोविशील्ड के टीके लगाए जाने थे। इसके लिए 341 स्वास्थ्य कर्मी ही आगे आए। इस बार परीक्षा बड़ी है। 22 जनवरी को 25 केंद्रों पर 37 सत्र होंगे। इसके आज 3,700 स्वास्थ्य कर्मियों के मोबाइल पर मैसेज पहुंचेंगे। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग आज तैयारियों को अंतिम रूप देंगे। केंद्र प्रभारियों को व्यवस्थाएं दुरुस्त रखने के निर्देश दिए गए हैं।

शहर में ये केंद्र

  • एसएन मेडिकल कॉलेज
  • जिला अस्पताल
  • लेडी लॉयल
  • रेनबो हॉस्पिटल
  • पुष्पांजलि हॉस्पिटल
  • सिनर्जी प्लस हॉस्पिटल
  • कमलेश टंडन नर्सिंग होम
  • स्पर्श मल्होत्रा नर्सिंग होम
  • श्रीकृष्णा नर्सिंग होम
  • रवि हॉस्पिटल

देहात में ये इन सीएचसी पर लगेगी

  • बाह
  • फतेहाबाद
  • शमसाबाद
  • बरौली अहीर
  • एत्मादपुर
  • खंदौली
  • अकोला
  • जैतपुर कलां
  • पिनाहट
  • बिचपुरी
  • फतेहपुर सीकरी
  • सैंया
  • खेरागढ़
  • जगनेर
  • अछनेरा

स्पुतनिक के ट्रायल में आठ वॉलेंटियर्स को पहली डोज

कोविशील्ड और को-वैक्सीन के अलावा आगरा में रूसी वैक्सीन स्पुतनिक का ट्रायल भी शुरू हो गया है। पहले दिन आठ वॉलेंटियर्स को वैक्सीन की पहली डोज दी गई। एसएन मेडिकल कॉलेज प्रशासन के सामने आठ दिन में 100 लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है। मेडिकल कॉलेज को स्पुतनिक के फेस थ्री टायल की अनुमति मिली है। पहले दिन ब्लड बैंक में वॉलेंटियर्स की स्क्रीनिंग की गई। इसमें ब्लड, कोरोना, एंटीबॉडीज सहित अन्य जांचें की गयी। इसके बाद आठ वॉलेंटियर्स को वैक्सीन लगाई गई। इस ट्रायल में भाग लेने के लिए वॉलेंटियर्स मेडिकल कॉलेज के ब्लड बैंक में प्रथम तल पर बनाए गए कार्यालय में पंजीकरण करा सकते हैं। 500 वॉलेंटियर्स का पंजीकरण किया जाना है और इसमें से 100 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *