February 26, 2021
आगरा क्राइम लाइफ स्टाइल

पहले दोस्ती, फिर चोरी करता था आगरा का ‘लक्की’

  • ब्रांडेड कपड़े और एसयूवी गाड़ी देख कर कोई नहीं करता था शक
  • हाईप्रोफाइल लोगों के बीच घूमना था उसका शगल, नोएडा से पकड़ा

ब्रांडेड कपड़े, एसयूवी गाड़ी, हाईप्रोफाइल लोगों के बीच रहना और पेशा चोरी। हम बात कर रहे हैं ताजनगरी के रहने वाले संजय पहाड़िया की। संजय की कहानी किसी फिल्म से कम नहीं है। अभय देओल की फिल्म ‘ओए लक्की ओए’ से प्रभावित संजय अब तक 50 से अधिक चोरियों को अंजाम दे चुका है। शुक्रवार को वो नोएडा पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

नोएडा के सेक्टर 20 कोतवाली से पुलिस ने गैंग के साथ घूमते संजय पहाड़िया को धर दबोचा। उसकी निशानदेही पर चोरी का काफी सामान व कैश मिला है। पुलिस ने बताया कि महंगी एसयूवी गाड़ियों में सवार होकर यह गैंग दिल्ली-एनसीआर की पॉश कॉलोनियों में घूमता था। जहां भी मौका मिलता था, अपने हाथ साफ कर लेता था। संजय पहाड़िया इतना शातिर था कि कई बार जिन घरों से माल उड़ाना होता था, उनके पास ही मकान किराए पर लेकर रहता था और परिजनों से दोस्ती तक कर लेता था।

उसकी स्टाइल देखकर कोई नहीं कह सकता था कि वो चोर है। पुलिस ने बताया कि अभय देओल की फिल्मी ‘ओए लक्की ओए’ से संजय बहुत प्रभावित था। उस फिल्म में भी अभय ने कुछ ऐसा ही किरदार निभाया था। संजय पर चोरी के 50 से अधिक मुकद्मे दर्ज हैं। मूल रूप से ताजनगरी का रहने वाले संजय ने फिलहाल दिल्ली के संगम विहार में अपना ठिकाना बना रखा था।

चोरी के पहले बंद कर लेता मोबाइल
पुलिस के सर्विलांस सिस्टम से बचने के लिए यह गैंग चोरी की वारदात से पूर्व अपने मोबाइल बंद कर लेता था। जब पुलिस इलाके के मोबाइलों की लोकेशन खंगालती थी, तो इनका नंबर सर्विलांस में दिखाई ही नहीं देता था। गैंग के पास चोरी के भी कई मोबाइल बरामद हुए हैं। जिन लोगों को यह गैंग चोरी का सामान बेचता था, पुलिस ने उन पर भी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। तीन और लोगों को हिरासत में लिए जाने की खबर है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *