March 6, 2021
Trending अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट्स

गुड-वेरी गुड रही ऑस्ट्रेलिया-भारत सीरीज

रैंकिंग: बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी की चारों पिचों की मिली हाई रेटिंग

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत खेली गई चार मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए उपयोग में लाई गईं चारों पिचों को आईसीसी ने ‘हाई रैटिंग’ से नवाजा है। वेबसाइट क्रिकबज के मुताबिक सीरीज में उपयोग में लाई गईं एडिलेड, मेलबर्न, सिडनी और ब्रिस्बेन की पिचों को आईसीसी ने ‘एवरेज’ से लेकर ‘वेरी गुड’ कटेगरी में रखा है। एडिलेड, जहां भारत दूसरी पारी में 36 रनों पर आउट हो गया था, की पिच को आईसीसी ने पिच तथा आउटफील्ड के लिए वेरी गुड कटेगरी में रखा है। यह टेस्ट तीन दिनों में ही समाप्त हो गया था।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने कहा है कि उसका लक्ष्य हमेशा से शानदार प्रतिस्पर्धा के लिए पिचें तैयार करना रहा है। सीए के चीफ अर्ल एडिंग्स ने क्रिकबज से कहा, हमारा लक्ष्य शानदार प्रतिस्पर्धा और अच्छे मुकाबले रहे हैं और इसी को ध्यान में रखते हुए हम स्तरीय पिचें तैयार करते हैं। चार मैचों में दोनों टीमों की ओर से कुल 3900 रन बनाए गए और इस दौरान कुल 130 विकेट गिरे। इस हाई वोल्टेज सीरीज का फैसला अंतिम टेस्ट से हुआ, जहां भारत ने जीत हासिल करते हुए 2-1 से सीरीज अपने नाम की। यह मैच अंतिम दिन के अंतिम सत्र में अंतिम ओवरों में समाप्त हुआ।

ब्रिस्बेन की पिच को जहां ‘गुड वेरी गुड’ रेटिंग मिली वहीं सिडनी टेस्ट के लिए उपयोग में लाई गई पिच को ‘एवव एवरेज एंड वेरी गुड’ रेटिंग मिली। दूसरा टेस्ट मेलबर्न में खेला गया था और इसे भारत ने 8 विकेट से जीतकर सीरीज में बराबरी की थी। इस मैच की पिच को ‘गुड और वेरी गुड’ रेटिंग मिली। आईसीसी को सीरीज की समाप्ति के बाद टेस्ट, वनडे और टी-20 मैचों के लिए उपयोग में लाई गई पिचों के सम्बंध में मैच रेफरी से रेटिंग मिलती है। इस रेटिंग की जानकारी मेजबान बोर्ड को दी जाती है। अगर पिच को खराब रेटिंग मिलती है तो फिर मेजबान बोर्ड को सफाई देनी होती है। अगर पिच की रेटिंग खराब या फिर अयोग्य रही तो फिर मेजबान बोर्ड के खिलाफ कार्रवाई की जाती है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *