March 2, 2021
आगरा उत्तर प्रदेश कारोबार कैरियर नगर निगम

स्मार्ट होंगे लेटर बॉक्स, करेंगे अलर्ट

  • समय से आपके अपनों के पास पहुंचेगा लेटर
  • पोस्टमैन और अधिकारी के पास पहुंचेगा मैसेज

डिजिटलाइजेशन के इस दौर में डाकघर की कार्यप्रणाली में भी कई बदलाव हो रहे हैं। एक नए बदलाव के तहत अब लेटर बॉक्स को भी स्मार्ट बनाया जा रहा है। इनकी ऑनलाइन निगरानी की जाएगी।

ताजनगरी में डाक विभाग द्वारा लेटर बॉक्स को ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम यानि जीपीएस से लैस किया जाएगा। जीपीएस वाले लेटर बॉक्स को नियमित रूप से नहीं खोलने पर पोस्टमैन पकड़ में आ जाएंगे। स्मार्ट लेटर बॉक्स में सेंसर और बारकोड टैग भी लगाए जाएंगे। इसके बाद अपनों तक पहुंचने में आपके लेटर को देरी नहीं होगी। वो कई दिनों तक इन लेटर बॉक्स में नहीं पड़े रहेंगे। बताया जा रहा है कि शुरुआत में शहर के दो दर्जन से अधिक स्थानों पर स्मार्ट लेटर बॉक्स इंस्टॉल होंगे। डाक विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह व्यवस्था नन्यथा योजना के अंतर्गत की जा रही है, लेकिन आगरा में अभी ऐसा शुरू नहीं हुआ है। जल्द ही इस तरह की व्यवस्था की जानी है।

नई व्यवस्था के तहत पोस्टमैन लेटर बॉक्स को खोलने के संबंध में गलत रिपोर्टिंग नहीं कर पाएंगे। जो लेटर बॉक्स नहीं खुलेगा उसका पता लग जाएगा, क्योंकि उसकी मॉनीटरिंग अधिकारी करेंगे। लेटर बॉक्स नियमित खुलने से डाक समय से गंतव्य स्थान तक पहुंच जाएगी।

क्यों की जा रही कवायद
बताया जा रहा है कि डिजिटल क्रांति के दौर में बहुत कम लोग ही बचे हैं जो लेटर भेजते हैं। इस पर भी अगर ये समस्या हो कि ये समय से न पहुंचे और कई-कई दिनों तक लेटर बॉक्स में ही पड़ा रहे तो जो लोग भेज भी रहे हैं, वे दूर होने लगते हैं। व्यवस्था से भरोसा डगमगाता है। ऐसे में डाक विभाग भी अब डिजिटली आगे आ रहा है।

ऐसे करेगा काम
अधिकारियों के मुताबिक लेटर बॉक्स को अपग्रेड करते हुए डाक विभाग लेटर बॉक्स में सेंसर और बार कोड लगा देगा। लेटर बॉक्स में लेटर गिरते ही संबंधित पोस्टमैन और पोस्टर अधिकारी के पास मोबाइल एप में अलर्ट आ जाएगा। शाम को किस लेटर बॉक्स में लेटर पड़ा है, कितने लेटर हैं, इसकी पूरी जानकारी पोस्टमैन को हो जाएगी।


बार कोड स्कैन करना होगा

लेटर बॉक्स को खोलते ही इसमें लगे बार कोर्ड को एप के जरिए स्कैन करना होगा। एप में रिकॉर्ड दर्ज हो जाएगा कि लेटर रिसीव कर लिये गए हैं। इसके बाद बंद करते ही फिर बार कोड स्कैन करना होगा और बॉक्स में लेटर की संख्या एप में शून्य हो जाएगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *