March 6, 2021
Trending आगरा उत्तर प्रदेश उत्तराखंड दिल्ली

आगरा के कई किसान नेता किए गए नजरबंद

  • किसानों के चक्का जाम को लेकर यूपी में सतर्कता बढ़ी
  • आगरा, मथुरा समेत कई जिलों में पुलिस अलर्ट पर
  • एक्सप्रेस वे के खंदौली टोल पर सघन चेकिंग शुरू

वैसे तो यूपी, उत्तराखंड और दिल्ली को किसानों ने चक्का जाम से मुक्त रखा है लेकिन यूपी पुलिस फिर भी एहतियाती कदम उठा रही है। यूपी में पुलिस अलर्ट पर है और सुरक्षा के प्रबंध कड़े कर दिए गए हैं। आगरा में ही कई किसान नेताओं को आज तड़के नजरबंद कर दिया गया है। इन किसान नेताओं को शांति भंग में पाबंद किया गया है।

आगरा में पुलिस ने किसान नेता श्याम सिंह चाहर, सोमवीर यादव, सावित्री चाहर सहित दर्जनों नेताओं को घरों में नजरबंद कर दिया है। आज सुबह सपा के नेताओं को भी नजर बंद करने का सिलसिला प्रारंभ हो गया। आज सुबह ही जगदीशपुरा पुलिस ने सपा नेता लाल सिंह लोधी को उनके आवास में ही नजरबंद कर दिया। इसी तरह अन्य सपाइयों को घरों पर नजरबंद कर उनको बाहर न निकलने की चेतावनी दे दी गई है। आंदोलन के मद्देनजर पुलिस ने यमुना एक्सप्रेस वे के खंदौली टोल पर सघन चेकिंग अभियान चला रखा है। किसी भी वाहन को बिना चेकिंग के नहीं जाने दिया जा रहा है। पुलिस को आशंका है कि कहीं दूसरा वेश धारण कर किसान टोल से निकलकर यमुना एक्सप्रेस वे पर जाम लगा सकते हैं। किसान के वेश वाले लोगों से कड़ी पूछताछ की जा रही है।

भारतीय किसान यूनियन ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि यूपी, उत्तराखंड और दिल्ली में चक्का जाम का कार्यक्रम नहीं है। लेकिन भाकियू के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि यूपी में एक लाख किसानों को स्टैंड बाई पर रखा है ताकि जरूरत के समय वे दिल्ली के समीप स्थित गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंच सकें। उन्होंने कहा कि हर गांव को सूचना भेज दी गई है कि प्रत्येक गांव से एक ट्रैक्टर और दस लोग तैयार रहें ताकि किसी भी जरूरत पर उन्हें बुलाया जा सके। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आगरा और मथुरा जनपद में भी इस तरह के संदेश राकेश टिकैत की ओर से भेजे गए हैं। इसके मद्देनजर यहां भी तैयारी हो रही थी। पुलिस को भी इसकी जानकारी मिल गई थी। पुलिस ने ऐसे किसान नेताओं को आज तड़के ही नजरबंद कर दिया, जो लोगों की गोलबंदी कर रहे थे। पुलिस ने इन नेताओं के बारे में जानकारी देने से फिलहाल इनकार कर दिया है।

यूपी सरकार की ओर से जिला प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि वे किसानों के चक्का जाम से निपटने की तैयारी कर लें। जिला प्रशासन ने इसको लेकर सुरक्षा के इंतजाम कर लिए हैं। पुलिस को अलर्ट पर रहने को कहा गया है। यूपी के सभी जिलों में किसानों की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। पश्चिमी यूपी के किसानों पर खास नजर है। गाजियाबाद, मेरठ, सहारनपुर, बागपत, गौतमबुद्धनगर, मुजफ्फरनगर समेत कई जिलों में पुलिस हाई अलर्ट पर है। आगरा और मेरठ में भी पुलिस को अलर्ट किया गया है। यदि आगरा से किसान किसी ट्रैक्टर पर सवार होकर दिल्ली की ओर बढ़ने का प्रयास करेंगे तो उन्हें रोकने की पूरी तैयारी कर ली गई है। पुलिस को किसानों की किसी भी बात पर भरोसा नहीं है। वैसे खुफिया सूचनाओं पर कहा जा रहा है कि किसान यूपी में भी उपद्रव कर सकते हैं। यही कारण है कि यूपी में भी पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। आज 12 बजे से किसानों का चक्का जाम है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *