March 5, 2021
आगरा ट्रांसपोर्ट दुर्घटना

बल्केश्वर में मातम का माहौल

  • तेज रफ्तार बनी चार जिंदगियों के गुम होने की वजह
  • भाग निकला ट्रौला चालक, पुलिस को मिली नंबर प्लेट

तेज रफ्तार ने खुशियों को मातम में बदल दिया। एक ही परिवार के चार लोग मौत के मुंह में समा गए। बल्केश्वर के इस परिवार के साथ जो हुआ, जिसने सुना, दंग रह गया। इलाके में मातम छाया हुआ है। परिवार के अन्य सदस्यों से मिलने के लिए लगातार लोग आ रहे हैं। 

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर मंगलवार अलसुबह गंगे गौरी बाग (बल्केश्वर) निवासी चार लोगों का करुणांत हो गया था। पुलिस के अनुसार राजकुमार मित्तल अपनी पत्नी भावना, बेटी दीक्षा, बेटे रचित तथा साले महावीर के साथ कानपुर जा रहे थे। फतेहपुर (औरेया) के पास राजकुमार मित्तल की यूपी 80 ईए 9690 नंबर की वैगनआर गाड़ी एक्सप्रेस वे पर खड़े ट्रौला में घुस गयी। हादसा इतना भीषण था कि कार टकराते ही पलट गई।

इस जबरदस्त टक्कर में मौके  पर ही कार सवार चार लोगों की मौत हो गई। उनका बेटा रचित घायल हो गया। बताया जाता है कि पूरा परिवार कानपुर अपनी बेटी के रिश्ते के लिए लड़के वालों के यहां जा रहे थे। कार रचित चला रहा था। वह घायल हो गया। राजकुमार मित्तल बल्केश्वर में दीक्षा ज्वैलर के नाम से कारोबार करते थे।

खबर सुनते ही इलाके में कोहराम मच गया था। मंगलवार दिन भर लोगों का आना-जाना लगा रहा। बुधवार सुबह भी तमाम लोग इस परिवार को सांत्वना देने के लिए पहुंचे। पुलिस को प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि तेज रफ्तार के चलते यह हादसा हुआ। दरअसल जिस जगह हादसा हुआ, वहां दोनों ओर मंदिर हैं। एक चाय की दुकान भी बताई गई है। ट्रॉला चालक इसी चाय की दुकान पर उतरा था। कुछ ही मिनटों बाद तेज रफ्तार वैगनआर कार पीछे से जा घुसी। गाड़ी पूरी तरह से खत्म हो गई है।

तेज रफ्तार वैगनआर कार पीछे से ट्रौला में जा घुसी। मंगलवार सुबह हुए इस हादसे में बल्केश्वर के चार लोगों की मौत हो गई। इलाके में मातम छाया हुआ है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *