February 24, 2021
Trending कारोबार मनोरंजन

‘इतने खूबसूरत चेहरे को कोई अर्थशास्त्र से नहीं जोड़ सकता’

  • बिग बी ने की आईएमएफ चीफ गीता गोपीनाथ की तारीफ
  • गीता गोपीनाथ ने कहा- मैं इसे कभी नहीं भूल पाऊंगी
  • ट्विटर यूजर्स ने की आलोचना, बताया सेक्सिस्ट कमेंट

बॉलीवुड मेगास्टार अमिताभ बच्चन इन दिनों टीवी के चर्चित शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के 12वें सीजन को होस्ट कर रहे हैं। हाल ही में एक एपिसोड के दौरान अमिताभ बच्चन ने कंटेस्टेंट से इंटरनेशनल मोनेटरी फंड (आईएमएफ) की चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ से जुड़ा एक सवाल पूछा था। इस दौरान उन्होंने गीता गोपीनाथ की खूबसूरती की तारीफ भी की। इस पर चीफ इकोनॉमिस्ट ने प्रतिक्रिया दी है। हालांकि अमिताभ बच्चन की इस टिप्पणी को ट्विटर यूजर्स ने पसंद नहीं किया और बिग बी की टिप्पणी को सेक्सिस्ट कमेंट बता कर आलोचना की है।
‘कौन बनेगा करोड़पति’ में अमिताभ बच्चन ने एक कंटेस्टेंट से से पूछा कि इस तस्वीर में जो अर्थशास्त्री दिख रही हैं, वह 2019 से कौन सी संस्था की मुख्य अर्थशास्त्री है? इसके बाद गीता गोपीनाथ की फोटो स्क्रीन पर नजर आती है। अमिताभ बच्चन गीता गोपीनाथ के चेहरे को देखकर कहते हैं कि इनका चेहरा इतना खूबसूरत है कि कोई भी उन्हें अर्थशास्त्र से नहीं जोड़ सकता। गीता गोपीनाथ ने इस वीडियो को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर कर लिखा, ‘मुझे नहीं लगता है कि कभी इसे भूल पाऊंगी। मैं अमिताभ बच्चन की बहुत बड़ी फैन हूं। मेरे लिए यह बहुत खास है।’ अमिताभ बच्चन ने गीता गोपीनाथ की बात पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि धन्यवाद गीता गोपीनाथ जी, मैंने जो कुछ भी कहा है, वह इमानदारी से कहा है।
हालांकि, अमिताभ बच्चन की गीता गोपीनाथ यह टिप्पणी पर सोशल मीडिया यूजर्स को पसंद नहीं आई और उन्होंने अमिताभ बच्चन को ट्रोल करना शुरू कर दिया। एक यूजर ने लिखा कि बहुत दुख हुआ, उन्होंने सिर्फ आपके लुक्स की तारीफ की। आपकी उपलब्धि पर उनका ध्यान नहीं गया। मैं दावे के साथ कहता हूं अगर स्क्रीन पर रघुराम राजन या फिर कौशिक बसु होते तो वह ऐसा नहीं कहते, खैर गीता गोपीनाथ आपको बधाई। एक अन्य यूजर ने लिखा कि अर्थशास्त्र में ज्यादातर लड़कियां, जिन्हें मैं जानता हूं वे सुंदर ही हैं। मिस्टर बच्चन को को-एड इकोनॉमिक्स संस्थानों में जाने की जरूरत है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *