February 26, 2021
आगरा पॉलिटिक्स बिजली विभाग

काम ठप कर धरने पर बैठे बिजली कर्मचारी

आगरा, नोएडा व उड़ीसा में फ्रेंचाइजी करार और नए इलैक्ट्रोनिक अमेंडमेंट एक्ट को निरस्त करने के लिए बिजली कर्मचारियों ने एमडी कार्यालय पर हड़ताल कर सभा की। कर्मचारियों की हड़ताल के चलते जिले के सात विद्युत खंडों में राजस्व वसूली, बिलिंग, मरम्मत व रखरखाव का काफी कार्य नहीं हो सका।

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले की गई हड़ताल के चलते निगम से संबंधित 21 जिलों में कार्य प्रभावित रहा। परिषद के अध्यक्ष वीपी सिंह ने कहा कि आगरा, नोएढा और उड़ासी में निजीकरण फेल साबित रहा है। यहां फ्रेंचाइजी करार निरस्त किए जाएं। निगम को घाटे से उबारने के लिए यूपीएसआईबी का गठन किया जाए। इस हड़ताल में बिजली इंजीनियरों के अलावा 18 बिजली संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल रहे।

फ्रेंचाइजी करार और इलैक्ट्रोनिक अमेंडमेंट एक्ट निरस्त करने की उठाई मांग

हड़ताल के चलते करीब साढ़े चार करोड़ रुपये के बिजली बिल भी जमा नहीं हो सके। देहात क्षेत्र में बिजली आपूर्ति और रख-रखाव के कार्य भी नहीं हो सके। इस दौरान एडीएस वर्मा, अंशुल अग्रवाल, अनूप उपाध्याय, विष्णु प्रसाद शर्मा, रवि अग्रवाल, पंकज गोयल, हरीश बंसल, शैलेंद्र शर्मा, डीपी वर्मा, प्रभाकर सिंह, डीसी शर्मा, भूपेंद्र सिंह, मनोज अग्रवाल, कुलदीप कुलश्रेष्ठ आदि मौजूद रहे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *