March 2, 2021
कारोबार राष्ट्रीय सरकार

सेबी ने बेकन्स इंडस्ट्रीज पर लगाया जुर्माना

बाजार नियामक सेबी ने ग्लोबल डिपॉजिटरी रिसीट (जीडीआर) में गड़बड़ी को लेकर बेकन्स इंडस्ट्रीज लि. और उसके चार अधिकारियों पर 11.8 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया। बेकन्स ने जुलाई 2008 में 50 लाख डॉलर मूल्य का जीडीआर जारी किया। इसका मकसद संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में अनुषंगी इकाई लगाना था। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) की शिकायत में पाया गया कि विंटेज एफजेडई जीडीआर लेने वाली एकमात्र अंशधारक थी और कंपनी ने विंटेज द्वारा लिये गये कर्ज के बदले जीडीआर राशि को गिरवी रख दी। बेकन्स बीएसई को लक्जमबर्ग शेयर बाजार से जीडीआर की सूचीबद्धता समाप्त करने के बारे में बताने में भी विफल रही। कंपनी ने जो जानकादी दी, वह सही नहीं थी। सेबी के अनुसार, जीडीआर जारी करने की योजना एक धोखाधड़ी थी। नियामक के अनुसार कंपनी वित्त वर्ष 2008-09 की सालाना रिपोर्ट में संभावित नुकसान को लेकर देनदारी के बारे में भी खुलासा करने में विफल रही। बाजार नियमों के उल्लंघन को लेकर सेबी ने बेकन्स इंडस्ट्रीज पर 10.25 करोड़ रुपये का जुमार्ना लगाया जबकि अधिकारियों पर 15 लाख रुपये से लेकर एक करोड़ रुपये तक का जुर्माना लगाया गया है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *