February 26, 2021
आगरा इतिहास

यमुना किनारा रोड का आकर्षण होगी महाराणा प्रताप की प्रतिमा

शहर में यमुना किनारा रोड पर जल्द ही राष्ट्र पुरुष महाराणा प्रताप की प्रतिमा स्थापित हो जाएगी। प्रतिमा 16 फीट ऊंची होगी। यह तैयार हो चुकी है और नगर निगम जल्द इसे समारोहपूर्वक स्थापित कराएगा।

क्षत्रिय समाज ने महाराणा प्रताप की प्रतिमा लगवाने के लिए पहल की थी। कई माह पूर्व क्षत्रिय समाज के लोगों ने पार्षद शरद चौहान, विवेक तोमर एवं अन्य के साथ मेयर नवीन जैन से मुलाकात कर महाराणा प्रताप की प्रतिमा शहर में किसी उपयुक्त स्थान पर लगाने की मांग की थी। मेयर ने इसका वायदा किया था। बाद में नगर निगम की कार्यकारिणी समिति और सदन से भी इस आशय का प्रस्ताव इन पार्षदों के प्रयासों से पास हो गया था। इसके साथ ही नगर निगम की ओर से महाराणा प्रताप की 18 फीट ऊंची आदमकद प्रतिमा तैयार कराने का काम श्ुरू करा दिया गया था।

18 ऊंची प्रतिमा आंबेडकर पुल के पास तिकाने सर्कल पर लगेगी

महाराणा प्रताप की प्रतिमा के लिए यमुना किनारा रोड का चयन इसलिए किया गया है क्योंकि ये शहर के मुख्य मार्गों में से एक है। इस मार्ग से ही देशी-विदेशी पर्यटक ताजमहल और किले की ओर आते-जाते हैं।

पार्षद शरद चौहान ने बताया कि प्रतिमा तैयार हो चुकी है। यमुना किनारा मार्ग पर आंबेडकर पुल के पास के सर्कल पर प्लेटफार्म बनाकर प्रतिमा स्थापना का काम भी जल्द हो जाएगा। इस सिलसिले में क्षत्रिय समाज के प्रतिनिधिमंडल ने मेयर ने मुलाकात की। मेयर 17 फरवरी से प्लेटफार्म का काम शुरू कराने का वायदा किया है। प्रतिनिधिमंडल में जिलाध्यक्ष भंवर सिंह चौहान, महानगर अध्यक्ष विनोद परमार, पार्षद शरद चौहान, जवाहर सिंह जादौन, केके चौहान, संजय चौहान, नाहर सिंह, देवेंद्र परमार, महेश राघव, निर्भय सिंह, ब्रजेश रजावत और सुरेश सिकरवार आदि मौजूद रहे।

गोल सर्कल पर लगाने की मांग थी
यमुना किनारा मार्ग पर जिस जगह महाराणा प्रताप की प्रतिमा स्थापित की जाएगी, वहां पर दो सर्कल हैं। एक तिकोना है तो दूसरा गोल। गोल सर्कल आकार में बड़ा भी है। क्षत्रिय समाज बड़े सर्कल पर ही प्रतिमा लगवाना चाहता था, लेकिन इस सर्कल को नगर निगम ने विज्ञापन के लिहाज से पांच साल के लिए लीज पर उठाया हुआ है। इस वजह से महाराणा प्रताप की प्रतिमा तिकोने सर्कल पर ही लगेगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *