March 6, 2021
आगरा इतिहास उत्तर प्रदेश पॉलिटिक्स

यूपी का स्थापना दिवस आज, तीन दिन मनेगा

देश का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश आज 70 साल का हो गया है। आज से तीन दिन तक उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस समारोह लखनऊ में मनाया जाएगा। पूर्व राज्यपाल राम नाईक की पहल पर अब वर्ष 2018 से उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस मनाया जाता है। यह तीसरा मौका है, जब उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस मनाया जाएगा।

हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश का सदियों पुराना इतिहास रहा है। यह राज्य गंगा-जमुनी तहजीब के लिए जाना जाता रहा है। यह राज्य गंगा, यमुना और सरस्वती के संगम के लिए जाना जाता है। यह राज्य खेती के लिए जाना जाता है। यह राज्य राजनीति के लिए जाना जाता है। इतिहास में कई साम्राज्यों के बनने बिगड़ने का महत्वपूर्ण कहानी यह राज्य बयां करता है।

कहा जाता है कि इस राज्य में 2000 ईसापूर्व में जब आर्य आए तब से हिन्दू संस्कृति की इस राज्य में नींव पड़ी। 400 ईसापूर्व के काल से नंद और मौर्य वंश ने जो साम्राज्य की परिधि बनाई उसके हृदय में शुंग, कुषाण, गुप्त, पाल, राष्ट्रकूट फिर मुगलों ने ये भू-भाग सुरक्षित बनाये रखा। यह राज्य सिर्फ हिन्दू संस्कृति नहीं बल्कि बौद्ध धर्म के प्रेरणादायी अतीत की गाथा की भूमि भी रहा है।

यूपी दिवस इसी तारीख को मनाये जाने के पीछे एक कारण है। 24 जनवरी 1950 से पहले यह राज्य यूनाइटेड प्रॉविंस के नाम से पहचाना जाता था। 24 जनवरी 1950 को उत्तर प्रदेश को उसका नाम मिला। एक अप्रैल 1937 को ब्रिटिश शासन के दौरान इसे संयुक्त प्रांत आगरा और अवध के रूप में स्थापित किया गया था। ब्रिटिश शासनकाल में इसे यूनाइटेड प्रॉविंस कहा जाता था, जो कि 24 जनवरी 1950 में बदलकर उत्तर प्रदेश किया गया। 24 जनवरी 1989 से महाराष्ट्र में रहे लोग प्रत्येक वर्ष इस तारीख को उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस मनाते थे। इस बात को लेकर काफी विवाद हुआ था। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने इस दिन को महाराष्ट्र में मनाने को लेकर विरोध जताया था।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *